प्रदेश में ठप्प पड़ी भर्ती प्रक्रियाओ को शुरू करवाने के लिए और भर्ती आयोगों के गठन की मांग को लेकर प्रतियोगी छात्रों ने शुरू किया अनशन , छात्रों का एलान , मांगे पूरी होने तक जारी रहेगा आंदोलन

CHHATRON KA ANDOLAN SHURU  आयोगों के पुनर्गठन और भर्तियों में देरी को लेकर प्रतियोगी खासे खफा हैं। इसीलिए आंदोलन थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब प्रतियोगी छात्रों ने बालसन चौराहे पर गांधी प्रतिमा के सामने क्रमिक अनशन शुरू किया है। उनका कहना है कि आंदोलन मांगे पूरी होने तक जारी रहेगा।

अनशनकारी अविनाश विद्यार्थी व अरविंद सरोज ने बताया कि उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग, अधीनस्थ चयन सेवा आयोग, माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड का सरकार जल्द पुनर्गठन करे। इन आयोगों की लंबित भर्तियों के साथ ही उप्र लोकसेवा आयोग और उप्र पुलिस की भर्तियां भी तेजी से कराई जाए।

उदय प्रकाश ने कहा कि छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है, क्योंकि तय उम्र निकलने के बाद वह आवेदन करने की स्थिति में नहीं रहेंगे। युवाओं ने अल्टीमेटम दिया कि मांगों की अनसुनी होने पर सरकार को गंभीर परिणाम भुगतना होगा। साथ ही क्रमिक अनशन अब नियमित जारी रहेगा। यहां पर डा. निर्भय सिंह पटेल, अजीत विधायक, राहुल यादव, शशांक सोनकर, संदीप, रोहित आदि बड़ी संख्या में युवा उपस्थित रहे।

प्रमाणपत्र सत्यापन आठ जनवरी से : 
कर्मचारी चयन आयोग ने जूनियर इंजीनियर परीक्षा 2016 के पुनरीक्षित परिणाम जारी कर अभ्यर्थियों के प्रमाण पत्र सत्यापन की तारीखें तय कर दी हैं। इसमें क्षेत्रीय कार्यालय इलाहाबाद से संबंधित 625 अभ्यर्थियों के प्रमाण पत्र का सत्यापन आठ से 15 जनवरी के बीच होगा।

आयोग ने जूनियर इंजीनियर (सिविल, मैकेनिकल, इलेक्टिकल, क्वांटिटी सर्वेइंग एंड कांट्रैक्ट) परीक्षा 2016 के द्वितीय पेपर का परिणाम 15 दिसंबर 2017 को जारी किया था। गुरुवार को आयोग ने प्रमाण पत्र सत्यापन के लिए अभ्यर्थियों का पुनरीक्षित परिणाम जारी किया।

Leave a Comment