Share with friends

बड़ी खबर :: देशभर में 80 हज़ार से ज्यादा शिक्षक ले रहे दो या तीन कॉलेजो से वेतन , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

TEACHERS KI SALARY KA KHULASA जिन शिक्षकों से शिक्षा ही नहीं बल्कि चरित्र और राष्ट्र निर्माण की उम्मीद की जाती है वह खुद कैसे हैं इसका पता मानव संसाधन विकास मंत्रलय की ‘उच्च शिक्षा पर सालाना सर्वेक्षण’ रिपोर्ट से चलता है। करीब 80 हजार शिक्षक ऐसे पाए गए हैं जो फर्जीवाड़ा कर दो या तीन कॉलेजों से वेतन ले रहे हैं।
आधार से खुलासा : 
गुरुवार को जारी 2016-17 सर्वेक्षण की रिपोर्ट के मुताबिक, कॉलेजों से कहा गया था कि वे अपने शिक्षकों का आधार नंबर भी प्रदान करें। सर्वेक्षण के लिए अलग से पोर्टल ‘गुरुजन’ बना हुआ है। इसी पोर्टल पर ‘आधार’ के साथ शिक्षकों का ब्योरा डालने पर इस फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है।
 फर्जी शिक्षक सिर्फ राज्य विवि में:
 सर्वेक्षण के मुताबिक फर्जी शिक्षक सिर्फ राज्यों के विश्वविद्यालयों में पाए गए हैं। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि किस कॉलेज में कितने शिक्षक हैं, इसका ब्योरा पोर्टल पर उपलब्ध होगा।
आधार नंबर से खुलासा 
उच्च शिक्षा सर्वेक्षण के दौरान आधार नंबर की अनिवार्यता से इस फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है। देशभर में 15 लाख शिक्षक उच्च शिक्षण संस्थानों में कार्यरत हैं। इनमें 12.68 लाख शिक्षकों के ब्योरे आधार नंबर सहित एकत्र किए गए थे।

Leave a Comment